जननी सुरक्षा योजना ऑनलाइन फॉर्म, सम्पूर्ण जानकारी के साथ

Janani Suraksha Yojana:- भारत सरकार महिलाओं के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएँ चलाती है। जैसे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, उज्जवला योजना आदि। विशेषकर जब महिलाएं गर्भवती हों तो महिला और नवजात शिशु की सुरक्षा और अधिक ज़रूरी हो जाती है। महिला और नवजात शिशु पूरी तरह से निरोगी रहे इसके लिए भारत सरकार उनको दवाई और अच्छी देखभाल के लिए 6000 रुपये तक की राशि उपलब्ध कराती है है। ये राशि जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत दी जाती है। इस पोस्ट मे हम आपको इस योजना से जुड़े सभी पहलुओं पर सही प्रकार से रोशनी डालेंगे ताकि आप इस योजना के बारे मे सही और ताज़ा जानकारी ले पाएँ। इस पोस्ट मे हम आपको बताएँगे कि जननी सुरक्षा योजना क्या है?, इसको चलाने का उद्देश्य क्या है, इसके पात्र बनने के लिए क्या चीज़ें ज़रूरी है, आवेदन के लिए ज़रूरी दस्तावेज़ क्या होंगे आदि। अगर आप Janani Suraksha Yojana की सम्पूर्ण जानकारी पाना चाहते है तो इस पोस्ट को आखिर तक पूरा पढ़ लें।

Janani Suraksha Yojana 2023

Janani Suraksha Yojana

जननी सुरक्षा योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा किया गया है। इस योजना के द्वारा देश की ऐसी गर्भवती महिलाएं जो सरकारी अस्पताल मे डीलीवरी कराएंगी उनको इस योजना का लाभ मिलता है। इस योजना का उद्देस्य गरीब गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं को अच्छी दवाई और खान पान देकर उनका विकास करना है। वे सभी गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली गर्भवती महिलाएं जो इस स्कीम के तहत आवेदन करना चाहती है उनको संबन्धित विभाग की वैबसाइट पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को 2 श्रेणियों मे बांटा गया है।

  • ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- जननी सुरक्षा योजना के तहत पात्र गर्भवती महिला को प्रसव के समय 1400 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके साथ साथ क्षेत्र की आशा सहयोगी को महिला के प्रसव प्रोत्साहन के लिए 300 रुपये दिये जाते है। प्रसव के बाद भी आशा सहयोगी को सेवा प्रदान करने के लिए 300 रुपये दिए जाते है।
  • शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- योजना के तहत शारी क्षेत्र की गरीब महिलाओं को प्रसव के समय 1000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। आशा सहयोगी को भी प्रसव मे सहयोग के लिए 200 रुपये दिये जाते है और प्रसव के बाद सेवा देने के लिए भी 200 रुपये दिये जाते है।

जननी सुरक्षा योजना 2023 का उद्देश्य

सरकार की काफी कोशिशों के बाद भी ग्रामीण क्षेत्रों मे चिकितना सुविधाएं अब भी काफी मुश्किल और जटिल है। साथ ही पैसे की कमी के कारण गर्भवती महिलाओं को सम्पूर्ण पोषण युक्त खान पान नहीं मिल पाता है जिससे नवजात शिशु कमजोर होने की संभावना रहती है साथ ही साथ गर्भवती महिला को प्रसव के समय विभिन्न पार्शनियों का सामना करना पड़ता है। इस सभी परेशानियों को ध्यान मे रखते हुए केंद्र सरकार ने Janani Suraksha Yojana को शुरू किया है। JSY 2023 के द्वारा गर्भवती महिलाओ बेहतर चिकित्सा सुविधा और वित्तीय सहायता प्रदान करना ही मुख लक्ष्य है। योजना के जरिया सरकार का मकसद गर्भवती महिलाओं की प्रसव के समय होने वाली मृत्यु दर को कम करना और साथ ही साथ नवजात बच्चों की मृत्यु दर को भी कम करना है। योजना का लक्ष्य ज्यादा से ज्यड़ा महिलाओं को सरकारी अस्पताल मे प्रसव के लिए प्रोत्साहित करना है ताकि किसी भी आपात स्थिति मे जच्चा और बच्चा को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं देकर उनकी जान को बचाया जा सके।

Janani Suraksha Yojana से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • यह योजना केंद्र सरकार द्वारा 12 अप्रैल 2005 को आरंभ की गयी थी।
  • इस योजना का संचालन केंद्र सरकार के द्वारा सभी राज्यों व केंद्र शशित प्रदेशों मे किया जाता है।
  • खासतौर पर राजस्थान, उत्तरांचल, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा एवं जम्मू कश्मीर को इस योजना मे ज्यादा महत्व दिया जाएगा।
  • योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी के पास जेएसवाई कार्ड और एमसीएच कार्ड दोनों होने चाहिए।
  • जिन लाभार्थियों को योजना का लाभ दिया जाएगा उनके नामों की सूची उप केंद्र, पीएचसी, सीएचसी, जिला अस्पताल मे बोर्ड पर प्रदर्शित की जाएगी।
  • लाभार्थी को मिलने वाली कुछ मदद मे से 4% पैसा एडमिनिस्ट्रेटिव एक्सपेंस के लिए प्रयोग किया जा सकता है।
  • प्रसव के समय किसी भी आपात स्थिति मे कम से कम 2 निजी संस्थानों को मान्यता दी जाएगी जिससे emergency के समय निजी डॉक्टर की सहायता से जटिल ऑपरेशन किए जा सकें।
  • यदि पति या पत्नी कोई भी बच्चे के जन्म के समय अपनी नसबंदी करवा लेते है तो उनको मुआवजा भी मिलता है।
  • यदि स्त्री का प्रसव आशा सहयोगी और आशा डॉक्टर की मदद से घर मे ही करा दिया जाता है तो 500 रुपये की राशि सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी । ये राशि प्रसव के समय या फिर प्रसव के 7 दिन के भीतर मिल जाएगी।
  • यदि किसी वजह से महिला का प्रसव ऑपरेशन के द्वारा किया जाता है तो महिला को प्रसूति की राशि प्रदान की जाएगी। इसके साठ साठ 1500 रुपये और दिये जाएंगे।
  • गर्भवती महिला के साठ साठ आशा सहयोगी को भी 600 रुपये दिये जाएंगे। इसके साथ साथ अधिकतम 200 रुपये और सहायता राशि के रूप मे दिये जाएंगे। इसके अलावा आने जाने के लिए आशा सहयोगी को 250 रुपये अतिरिक्त दिये जाएंगे।
  • जननी सुरक्षा योजना 2023 के अंतर्गत पंजीकरण कराने वाली सभी गर्भवती महिलाओं प्रसव से पहले कम से कम 2 जाँच बिल्कुल मुफ्त दी जाएँगी। इसके अलावा, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा डिलीवरी के बाद भी उनके स्वास्थ्य को लेकर उनके संपर्क मे रहेंगी और आवश्यकता पड़ने पर जांच और दवाई दी जाएगी।
  • बच्चे की नि:शुल्क डिलीवरी के बाद भी आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता 5 साल तक बच्चे का निशुल्क टीकाकरण करता है और उनकी जानकारी संबन्धित विभाग को भेजी जाती है।

Janani Suraksha Yojana की निगरानी

  • इस योजना मे सही से काम हो रहा है या नहीं इस बात की निगरानी के लिए उप केंद्र स्तर पर मासिक बैठक का आयोजन किया जाता है।
  • यह बैठक हर महीने आयोजित की जाती है जिसमे आशाएँ, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और ब्लॉक स्तर की हैड शामिल होती है।
  • यह बैठक हर महीने के तीसरे शुक्रवार को उप केंद्र पर आयोजित होती है।
  • यदि तीसरे शुक्रवार को छुट्टी होती है तो अगले दिन यह बैठक आयोजित की जाती है।
  • इस बैठक का उद्देश्य पंजीकृत महिलाओं के स्वास्थ्य और शिशुओं के समय पर टीकाकरण को स्थिति का आंकलन किया जाता है।

Janani Suraksha Yojana 2023 के अंतर्गत आशा एवं अन्य स्वास्थ्य सेवकों की भूमिका

  • क्षेत्र मे सभी गर्भवती महिलाओं की पहचान करना और उनका पंजीकरण JSY मे करवाना।
  • गर्भवती महिलाओं को सभी ज़रूरी कागजात जमा करने मे मदद करना।
  • आवेदक महिला को प्रसव से पूर्व की तीन एएमसी चेकअप मे मदद करना।
  • लाभार्थियों को सरकारी अस्पताल मे प्रसव करने के लिए प्रोत्साहित करना।
  • 14 हफ्ते तक नवजात शिशुओं के टीकाकरण की समौचित व्यवस्था करना ।
  • नवजात शिशु के जन्म या मृत्यु व जननी महिला के स्वास्थ्य की सूचना एएनएम या एमओ को देना।
  • प्रसव से पूर्व व बाद मे महिला के स्वास्थ्य की जांच और रेकॉर्ड रखना।
  • परिवार नियोजन को बढ़ावा देना।

Janani Suraksha Yojana 2023 के दस्तावेज़

  • आवेदिका का आधार कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • पते का सबूत
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जननी सुरक्षा कार्ड
  • सरकारी अस्पताल द्वारा जारी डिलीवरी सर्टिफिकेट
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

जननी सुरक्षा योजना 2023 में आवेदन कैसे करे ?

वो गर्भवती महिलाएं जो इस योजना के लिए पात्र है और वह Janani Suraksha Yojana 2023 के अंतर्गत सरकार द्वारा प्रदान की जा रही वित्तीय सहायता लेना चाहती है तो उसके लिए उनको संबन्धित विभाग Ministry of Health and Family Welfare, Government of India की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इस योजना से संबन्धित सभी जानकारी के लिए, इसका नोटिफ़िकेशन डाउनलोड करना होगा। इस नोटिफ़िकेशन मे आपको इस योजना से जुड़ी सभी जानकारी मिल जाएगी। जब आपको लगे कि आप जेएसवाई योजना मे आवेदन करने के लिए पात्र है तो आपको अपनी आशा से संपर्क कर्ण होगा। प्रसव के बाद आप उनसे एप्लीकेशन फॉर्म लेकर उसमे सभी जानकारी को भर दें जैसे महिला का नाम, पति का नाम, शहर या गाँव का नाम, पूरा पता, आदि । सभी जानकारी को भरने और संबन्धित कागजात को फॉर्म के साथ अटेच करने के बाद फिर आवेदन फॉर्म को आंगनवाड़ी या महिला स्वास्थ्य केंद्र मे जमा कर दें।

Janani Suraksha Yojana आवेदन स्थिति देखने की प्रक्रिया

  • आवेदन की स्थिति देखने के लिए आप संबन्धित आशा सहयोगी या फिर आंगनवाड़ी से सेंटर पर जा सकते है या फिर आप सरकारी अस्पताल मे सीएमओ कार्यालय से भी इसकी जानकारी ले सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top